Thursday, February 22, 2024
spot_img
Homeदेशतेरी जीत से ज्यादा चर्चे मेरी हार के है: नरोत्तम मिश्रा 

तेरी जीत से ज्यादा चर्चे मेरी हार के है: नरोत्तम मिश्रा 

 MP ELECTION:मध्य प्रदेश में बीजेपी की प्रचंड जीत हुई लेकिन कुछ कद्दावर या कहे बड़े  नेताओं को केवल निराशा ही हाथ लगी। मध्य प्रदेश  के गृहमंत्री अपना 15 साल पुराना गढ़ दतिया को बचाने में असफल रहे। वो दतिया से 2008 से विधायक निर्वाचित होते रहे थे लेकिन इस बार उन्हें राजेंद्र भारती के सामने शिकस्त का मिली। इस हार के बाद दतिया से भोपाल रवाना होते समय गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने स्टेशन पर कार्यकर्ताओं को शायराना अंदाज में कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। इससे पहले सोमवार दोपहर में नरोत्तम मिश्र ने कविता सुनागृकर यह कहा था कि मैं वादा करता हूं जल्दी ही  लौटूंगा।

Tere jeet se jyada charche mere har ke hai – Narottam mishra

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा जी ने स्टेशन पर कार्यकर्ताओं से बातचीत करते हुए उन्होंने शायराना अंदाज में कहा, ”अपनी जीत पर इतना गुमान मत कर, तेरी जीत से ज्यादा चर्चे तो मेरी हार के हैं।” इसे न्यूज 24 ने VIDEO सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स (ट्वीटर) पर शेयर किया है। देखें

https://x.com/news24tvchannel/status/1731889980627148833?s=20

फिर सोमवार को नरोत्तम मिश्र ने दतिया पहुंचे और कार्यकर्ताओं से मुलाकात की थी। इस दौरान सम्बोधन करते हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा कहा था,’‘ क्या हार में क्या जीत में, किंचित नहीं भयभीत मैं।” आगे बात जोड़ते हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा था कि “समुन्दर की लहर पीछे हट जाए तो किनारे पर घर मत बना लेना”,और  मैं लौटकर वापस जरूर आऊंगा।

MP ELECTION :गौरतलब हो मध्य प्रदेश  में भाजपा की प्रचंड लहर के बावजूद भी शिवराज सिंह चौहान कैबिनेट के कई मंत्रियों को भी मुंह की खानी पड़ी है। मध्य प्रदेश में विधान सभा चुनाव लड़ रहे केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते भी इस बार हार गए हैं। ज्ञात हो की इस लहर के बावजूद गृहमंत्री नरोत्तम मिश्र राजेंद्र भारती से 7742 वोटों से चुनाव हार गए हैं। कांग्रेस ने इस सीट पर प्रत्याशी बदला था और इसका उन्हें फायदा भी मिला है।

मध्य प्रदेश की  230 सीटों वाली विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 163 सीटें जीती हैं वही प्रमुख प्रतिद्वंदी कांग्रेस महज 66 सीटों पर सिमट कर के रह गई। वहीं एक सीट अन्य के खाते में गई है।मध्यप्रदेश में एक चरण में 17 नवंबर को चुनाव हुआ था और 3 दिसंबर को नतीजे आए हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments

You cannot copy content of this page